23.1 C
Delhi
Saturday, December 3, 2022
More

    Latest Posts

    यूक्रेन से दुल्हन लाने को बेताब हो रहे चीनी मर्द, आपदा में भी ढूंढ लिया अवसर

    दुनिया में मुसीबत को मौके में बदलने वालों की कमी नहीं। है। इस समय विश्व में एक ही चीज चर्चाओं में है और वो है रूस-यूक्रेन का युद्ध (Russia-Ukraine War)। रूस के हमले के बाद यूक्रेन लगभग तबाह ही हो चुका है। यूक्रेन का ज्यादातर हिस्सा रशियन आर्मी ने अपने कब्जे में ले लिया है। वहां के नागरिक अपना घर-बार छोड़कर (Russia-Ukraine Crisis) दूसरे देशों में शरण ले रहे हैं। इसी बीच चीनी लड़के शादी के लिए यूक्रेनियन दुल्हनें तलाश रहे हैं। इस समय चीनी लड़कों का इंटरेस्ट यूक्रेनियन दुल्हनों (Chinese men want Ukrainian Bride) के लिए डबल हो चुका है। यह जानकारी डेटिंग सर्विस मीलिश्का की ओर से साझा की गई।

    डेटिंग सर्विस मीलिश्का (Meilishka Match Making Service) का कहना है कि इस समय चीनी लड़कों का इंटरेस्ट यूक्रेनियन दुल्हनों (Chinese men want Ukrainian Bride) के लिए डबल हो चुका है।

    इस समय यूक्रेन में त्राहिमाम मचा हुआ है। न जाने कितने लोगों का घर इसमें तबाह हो रहा है। ऐसे में जो लड़कियां अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं या जिन्हें अपना भविष्य यूक्रेन में नहीं दिख रहा उनके लिए चीनी लड़के बेहतर विकल्प बनने की कोशिश कर रहे हैं और इसलिए वे उन्हें शादी के प्रपोजल भेज रहे हैं।इंक्वायरी की संख्या

    इंक्वायरी की संख्या हो चुकी है दुगनी

    Vice की रिपोर्ट के अनुसार पहले जहां चीन के मर्द दिन में 5 यूक्रेनी लड़कियों के बारे में पूछते थे, वहीं अब ये संख्या दोगुनी हो चुकी है। Meilishka Match Making Service के रशियन मालिक पावेल स्टेपनेट्स ने बताया कि ‘चीनी लड़कों को पता है कि इस वक्त यूक्रेनियन लड़कियां दुखी होंगी और वे अपने लिए सुरक्षित जगह ढूंढ रही हैं।

    ऐसे में यूक्रेनियन लड़कियां चीनी पतियों को बेहतर विकल्प मानेंगी’। मीलिश्का के आंकड़ों की बात करें तो 748 यूक्रेनियन लड़कियां चीनी लड़कों की तलाश में हैं, जबकि 70 चीनी लड़कों को दुल्हन की तलाश है। 8-9 मैचमेकिंग भी हो चुकी है।

    इस पॉलिसी के कारण कम है लड़कियों की संख्या

    बता दें कि चीन में मैचमेकिंग सर्विस (match making service) या फिर ‘मेल ऑर्डर ब्राइड’ (mail order bride) एक लोकप्रिय कॉन्सेप्ट है। जनसंख्या नियंत्रण पॉलिसी की वजह से चीन में लड़कियों का रेशियो (Ratio) लड़कों से काफी कम है क्योंकि ज्यादातर लोगों ने एक बच्चा रखने की पॉलिसी में लड़कों को चुना। ऐसे में पिछले 35 सालों में लड़कियों की जनसंख्या बहुत कम हो गई है।

    विदेशी दुल्हन चाहते हैं चीनी मर्द

    और इसी कारण चीनी मर्द अपने लिए विदेशी दुल्हन की तलाश में रहते हैं। उनकी पहली प्राथमिकता ईस्ट यूरोप की लड़कियां होती हैं। चीन और यूक्रेन में मैचमेकिंग कोई नई बात नहीं है लेकिन युद्ध के दौरान इसकी संख्या काफी तेजी से बढ़ी है।

    Latest Posts

    Don't Miss

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.