28.1 C
Delhi
Monday, June 14, 2021

क्या आप जानते हैं महाशिवरात्रि का गृहस्थ और साधकों के लिए पूजा का अलग अलग मुहूर्त और शुभ योग

महाशिवरात्रि 2021 साल का वह पावन दिन है जिस दिन भक्त महादेव और शक्ति स्वरूपा माता पार्वती को प्रसन्न करने के लिए...
More

    Latest Posts

    दूल्हे के राज़ पता चलते ही दुल्हन ने किया शादी से इनकार, कहा मरना मंज़ूर है पर शादी नहीं

    आए दिन आप शादी को लेकर हंगामा सुनते होंगे जहां किसी न किसी वजह से शादी टूट जाती है।  शादी एक पवित्र...

    चाय बेचने वाले ने शुरू की एलो वेरा की खेती, अब अपने बिज़नेस से कमा रहा है लाखों

    अगर आपके पास नौकरी नहीं है और आप घर बैठे कारोबार करने की सोच रहे हैं तो आप एलोवेरा की खेती करके...

    कई दिनों से व्यक्ति के कान में हो रही थी सुरसुराहट डॉक्टर ने डाला कैमरा तो निकला यह रहस्य

    कीड़े बहुत छोटे और बड़े भी होते हैं छोटे कीड़े कहीं पर भी घुस सकते हैं यह हमारे मुंह नाक और कान...

    यरुशलम का क्या है महत्व, जानिए इजरायल और फिलिस्तीन में किस लिए छिड़ी है जंग

    यरूशलम का मुद्दा इजरायल और फलस्तीनी अरबों के बीच के पुराने विवाद में एक अहम मुद्दा रहा है। बीबीसी की एरिका चेर्नोफ्स्काई...

    करोड़ो को छोड़कर इस शख्स ने दहेज में मांगे यह चीज़ जानकर सब रह गए दंग

    दहेज की प्रथा सदियों से चली आ रही है। जबकि सभी को पता है कि दहेज मांगना या लेना कानून जुर्म है फिर भी लोग इससे बाज नहीं आते लेकिन अभी भी कुछ लोग है जो इस सच से ऊपर उठकर लोगों को जागरूक कर रहे है।

    आज उसी शख्स के बारे में बात करते है जिसने अपनी शादी में ससुर से दहेज में ऐसी चीज़ मांग ली जिसके बाद लोग हैरान रह गए। दरअसल इस शख्स ने दहेज की परिभाषा ही बदल कर रख दी।

    ओडिशा के रहने वाले शिक्षक सरोजकांत ने समाज में एक नई सोच लाने की कोशिश की है। टीचर ने अपने ससुराल पक्ष से दहेज में 1001 पौधे दिए जाने का प्रस्‍ताव रखा। अब उनकी इस अनूठी पहल की चारों ओर सराहना की जा रही है।

    आपको बता दे कि सरोजकांत ने शादी से पहले अपने ससुर से दहेज के रूप में पौधे मांगे। इनमें कुछ पौधे आम के एवं शेष बबूल के थे। ये पौधे इन लोगों ने विवाह समारोह में शामिल होने आए ग्रामीणों एवं मेहमानों को भेंट में दे दिये। इनका मकसद था कि पौधारोपण होगा तो आसपास का वातावरण सुधरेगा।

    सरोज ने बताया, ‘मैं किसी भी रूप में दिए जाने वाले दहेज के खिलाफ हूं। मैं पेड़ बचाने का संदेश समाज को देना चाहता हूं। शादी से बेहतर मौका और क्या हो सकता है, जब मैं गांव वालों और रिश्तेदारों से पेड़ लगाने का संदेश दूं.’ साथ ही उन्होंने कहा कि हम दोनों शिक्षक हैं।

    हमारे इस कदम से स्कूल के छात्र भी काफी प्रेरित होंगे। इस नवविवाहित जोड़े और उनके माता-पिता की आज तरफ तारीफ हो रही है। इन्होंने न सिर्फ देश को पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया बल्कि दहेज के खिलाफ लोगों को जागरुक करने का भी काम किया।

    वहीं दुल्हन के गांव के रहने वाले रंजन प्रधान ने बताया कि बिलकुल सादगी से विवाह संपन्न हुआ। विवाह में बैंड-बाजा या पटाखों का कोई इस्तेमाल नहीं हुआ।

    Latest Posts

    दूल्हे के राज़ पता चलते ही दुल्हन ने किया शादी से इनकार, कहा मरना मंज़ूर है पर शादी नहीं

    आए दिन आप शादी को लेकर हंगामा सुनते होंगे जहां किसी न किसी वजह से शादी टूट जाती है।  शादी एक पवित्र...

    चाय बेचने वाले ने शुरू की एलो वेरा की खेती, अब अपने बिज़नेस से कमा रहा है लाखों

    अगर आपके पास नौकरी नहीं है और आप घर बैठे कारोबार करने की सोच रहे हैं तो आप एलोवेरा की खेती करके...

    कई दिनों से व्यक्ति के कान में हो रही थी सुरसुराहट डॉक्टर ने डाला कैमरा तो निकला यह रहस्य

    कीड़े बहुत छोटे और बड़े भी होते हैं छोटे कीड़े कहीं पर भी घुस सकते हैं यह हमारे मुंह नाक और कान...

    यरुशलम का क्या है महत्व, जानिए इजरायल और फिलिस्तीन में किस लिए छिड़ी है जंग

    यरूशलम का मुद्दा इजरायल और फलस्तीनी अरबों के बीच के पुराने विवाद में एक अहम मुद्दा रहा है। बीबीसी की एरिका चेर्नोफ्स्काई...

    Don't Miss

    पति का बेइंतहा प्यार बना पत्नी के लिए मुसीबत, कहा मुझे तलाक देदो

    दोस्तों जीवन जीने के लिए प्यार की जरूरत होती है। इंसानों के बीच का प्यार हो या फिर जानवरों के बीच का...

    कपूर खानदान की इस बहू ने परिवार के लिए छोड़ दिया था बना बनाया कैरियर जाने कोन है ये,

    संजय कपूर की पत्नी ने शादी बॉलीवुड में यूं तो कई ऐसी मॉडल और एक्ट्रेस हैं जो कुछ फिल्मों या म्यूजिक अलबम...

    इस गांव में 30 साल पहले थे 200 लोग, अब सिर्फ़ एक आदमी बचा, फिर भी नहीं है अकेला

    लगभग हर देश में आपको शहर और गांव दोनों देखने को मिल जाएंगे। दोनों की बात भी अलग होती है। जहां शहरों...

    भारत का वो रहस्यमय कुंड, जहां ताली बजाते ही ऊपर उठने लगता है पानी,वैज्ञानिक भी नहीं सुलझा पाए गुत्थी

    हमारे देश भारत में कई ऐसी रहस्यमयी चीजे है जिसके बारे में लोग जानने के लिए इच्छुक रहते है। जी हां एक...

    अगर मधुमक्खी ना रहे तो पृथ्वी से इंसान की मौजूदगी भी धीरे धीरे खत्म हो सकती है, जाने कैसें?

    मधुमक्खी अपनी जिंदगी में कभी नहीं सोती। ये इतनी मेहनती होती है कि पूछो मत, एक बूंद शहद के लिए दूर-दूर तक...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.