28.1 C
Delhi
Saturday, June 19, 2021

क्या आप जानते हैं महाशिवरात्रि का गृहस्थ और साधकों के लिए पूजा का अलग अलग मुहूर्त और शुभ योग

महाशिवरात्रि 2021 साल का वह पावन दिन है जिस दिन भक्त महादेव और शक्ति स्वरूपा माता पार्वती को प्रसन्न करने के लिए...
More

    Latest Posts

    20 साल में 40 बार मिला ट्रांसफर, फिर भी नही मानी इस दबंग महिला अफसर ने हार

    जी हां दोस्तों, डी रूपा, एक ऐसा नाम, जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। डी रूपा ने जब...

    सभी रिश्तों पर रखे गए है इन रेलवे स्टेशन के नाम, पर माँ के नाम पर कोई स्टेशन नहीं

    दोस्तों रिश्ते बहुत अहमियत रखते हैं हर किसी के जीवन में। जीवन है तो रिश्ते हैं, जीवन नहीं तो रिश्ते नहीं। रिश्ते...

    कुदरत के फरिश्ते: चेन्नई की 12 ट्रांसवुमेन जो गरीबो को खिलाते है भरपेट खाना

    जी हां दोस्तों बिल्कुल सही सुना आपने। जो आप पढ़ रहे हैं ये ही सच्चाई है। जिन लोगों को आम इंसान भी...

    प्रेमिका की शादी में प्रेमी पहुँचा कुल्हाड़ी लेकर, और जयमाला के समय कर दिया ऐसा काम

    एकतरफा प्यार एक-दूसरे को किसी भी स्टेज तक लेकर जा सकता है। जो लोग एकतरफा प्यार करते हैं, वो लोग हमेशा खतरे...

    जिसको आप आज तक अंधविश्वास समझते आयें हैं,उसके पीछे क्या है वैज्ञानिक तर्क,जानिए

    हमारे देश भारत में अधंविश्वास से जुड़ी बातों को सबसे अधिक महत्व दिया जाता है आज के समय में भी लोग अंधविश्वासों को मानने में पीछे नहीं हैं। लोग अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए अंधविश्वास से जुड़ी वो हर चीजों को मानते है जिसमें वो अपना फायदे देखते है।

    उन्हें शुभ अशुभ मानते हुए उन सभी नियमों का पालन करते हैं जो काफी समय से चले आ रहें हैं। पर क्या आप जानते हैं कि इनके पीछे कुछ वैज्ञानिक तर्क छुपे हुए हैं। जी हां भारत में हर परंपरा के पीछे वैज्ञानिक राज छिपे हुए है।

    आज भी हमारे देश के कई जगहों पर टोने टोटके देखते रहते है और लोग उस पर विश्वास भी करते है और विश्वास के कारण न जाने क्या कर बैठते है। ये प्रचलन शुरू से चलता आ रहा है। टोने टोटके के नाम पर ठगी की जाती है। भारत में दी जाने वाली पशु बलि की भी परंपरा भी शुरू से है। देवताओं को खुश करने के लिए जानवरो की बलि दी जाती है।

    बलि प्रथा के अंतर्गत बकरा, मुर्गा या भैंसे की बलि दिए जाने का प्रचलन है। हिन्दू धर्म में खासकर मां काली और काल भैरव को बलि चढ़ाई जाती है। उन्हें बलि चढ़ाने के लिए कई तरह के तर्क दिये जाते हैं। सवाल यह उठता है कि क्या बलि प्रथा हिन्दू धर्म का हिस्सा है?

    यदि वेद और पुराणों की मानें तो नहीं और यदि अन्य धर्मशास्त्रों की मानें तो हां। हालांकि वेद, उपनिषद और गीता ही एकमात्र धर्मशास्त्र है। पुराण या अन्य शास्त्र नहीं। बलि प्रथा का प्राचलन हिंदुओं के शाक्त और तांत्रिकों के संप्रदाय में ही देखने को मिलता है

    लेकिन इसका कोई धार्मिक आधार नहीं है। शाक्त या तांत्रिक संप्रदाय अपनी शुरुआत से ऐसे नहीं थे लेकिन लोगों ने अपनी इच्छाओं की पूर्ति के लिए कई तरह के विश्वास को उक्त संप्रदाय में जोड़ दिया गया।

    Latest Posts

    20 साल में 40 बार मिला ट्रांसफर, फिर भी नही मानी इस दबंग महिला अफसर ने हार

    जी हां दोस्तों, डी रूपा, एक ऐसा नाम, जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। डी रूपा ने जब...

    सभी रिश्तों पर रखे गए है इन रेलवे स्टेशन के नाम, पर माँ के नाम पर कोई स्टेशन नहीं

    दोस्तों रिश्ते बहुत अहमियत रखते हैं हर किसी के जीवन में। जीवन है तो रिश्ते हैं, जीवन नहीं तो रिश्ते नहीं। रिश्ते...

    कुदरत के फरिश्ते: चेन्नई की 12 ट्रांसवुमेन जो गरीबो को खिलाते है भरपेट खाना

    जी हां दोस्तों बिल्कुल सही सुना आपने। जो आप पढ़ रहे हैं ये ही सच्चाई है। जिन लोगों को आम इंसान भी...

    प्रेमिका की शादी में प्रेमी पहुँचा कुल्हाड़ी लेकर, और जयमाला के समय कर दिया ऐसा काम

    एकतरफा प्यार एक-दूसरे को किसी भी स्टेज तक लेकर जा सकता है। जो लोग एकतरफा प्यार करते हैं, वो लोग हमेशा खतरे...

    Don't Miss

    बिल्ली की जान बचाने के लिए औरत ने बच्चे को 5वीं मंजिल से लटकाया

    सोशल मीडिया अब एक ऐसा जरिया बन गया है जिससे कि हम हर चीज़ के बारे में अपडेट रहते है। आए दिन...

    अंबानी खानदान की बहू से धीरूभाई पूछते थे इतने सवाल, लगा देते थे क्लास

    रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी की अपने ससुर धीरूभाई अंबानी से काफी अच्छी बॉन्डिंग थी। यहां तक...

    कैदी हुआ फ़िल्म से प्रेरित, बना डाली जेल में इतनी लंबी सुरंग

    अक्सर कहा जाता है कि जहां पर आम इंसान की सोच खत्म होती है। अपराधियों की सोच वहीं से शुरू होती है।...

    एक बंदर के वजह से राजधानी एक्सप्रेस को बीच में पड़ा रोकना, ट्रैन में एक घंटे तक फंसे रहे यात्री

    बिहार के बक्सर में बंदर के उत्पात से करीब एक घंटे तक राजधानी एक्सप्रेस को रोकना पड़ा। चौसा बक्सर रेलखंड के पावनी...

    शिवसेना सांसद ने सांसद नवनीत कौर राणा को दी एसिड अटैक की धमकी, यहाँ जाने क्या है मामला

    महाराष्ट्र के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत कौर राणा ने आरोप लगाया है कि शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने उन्हें लोकसभा की...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.