16.7 C
Delhi
Sunday, February 25, 2024
More

    Latest Posts

    दुल्हन की शादी वाले दिन ही टूटी रीढ़ की हड्डी, तब भी दुल्हे ने सिन्दूर से मांग सजाकर बनाया उसे अपनी अर्धांगनी

    हमारे बॉलीवुड इंडस्ट्री में हर हफ्ते कोई न कोई फिल्म रिलीज़ होती है और उनमे से कुछ फिल्मे फ्लॉप हो जाती है तो कुछ सुपरहिट साबित होती है और वही कुछ फिल्मे ऐसी भी होती है जिनकी कहानी इतनी शानदार होती है की लोग इन फिल्मो की कहानी को अपने निजी जिंदगी में भी उतारने की कोशिश करते है और इस तरह से कितनी जिंदगियां भी संवर जाती है.

    एक ऐसी ही फिल्म साल 2006 में आई थी जिसका नाम था विवाह और सूरज बड़जात्या के निर्देशन में बनी ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई थी और इस फिल्म के लीड रोल में अभिनेता शाहिद कपूर और अभिनेत्री अमृता राव नजर आई थी |बता दे इस फिल्म में शादी के रिश्ते को इतने बेहतरीन तरीके से दिखाया गया था की दर्शकों को फिल्म की कहानी बेहद पसंद आई थी.

    फिल्म में ये दिखाया गया था की अमृता राव जो की बेहद खुबसूरत थी और उनकी शादी शादी कपूर से होने वाली थी पर इनके विवाह के दिन ही अमृता राव की पूरा शरीरी अपनी चाहेरी बहन को आग से बचाने के चक्कर में झुलस जाता है .

    पर इसके बावजूद भी दुल्हे बने शाहिद उनके बाहरी सुन्दरता को न देखते हुए मन की सुन्दरता को देखते है और अस्पताल में ही अमृता राव के साथ शादी रचा लेते है और फिल्म की हैप्पी एंडिंग होती है.

    वही अब विवाह फिल्म की ही तरह एक रियल लाइफ स्टोरी भी हमारे सामने आई है जिसे हर कोई बेहद पसंद कर रहा है तो आइये जानते है क्या है पूरा मामला. आपको बता दे ये मामला है उत्तर प्रदेश के कुंडा के मुजेहड़ी गांव का जहाँ प्रतापगढ़ के कुंडा की रहने वाली आरती नाम की एक लड़की की शादी तय हो गयी थी और 8 दिसम्बर को उसकी बारात आने वाली थी.

    पर आरती के साथ उसके शादी वाले दिन ही एक बड़ा हादसा हो गया जिसमे उसकी रीढ़ की हड्डी तक टूट गयी और उसके दोनों पांव भी बेजान हो गये और इस हादसे वे वो पूर तरह अपाहिज हो गयी. दरअसल जिस शाम उसकी बारात आने वाली थी.

    उसी दोपहर छत पर खेल रहे अपने भतीजे को गिरने से बचाने के चक्कर में आरती के साथ इतना बड़ा हादसा हो गया और छत से गिरने की वजह से उसकी रीढ़ की हड्डी समेत उसके दोनों पांव भी बेजान हो गये और उसे जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया.

    वही आरती के इस हालत के बारे में उसके ससुराल वालों को भी खबर दी गयी जिसके बाद आरती के होने वाले पति अवधेश को भी इसकी जानकारी हुई और वो तुरंत अस्पताल पहुँच गया और अस्पताल पहुँचने पर आरती की हालत देख काफी रोने लगा.

    तब आरती के घर वालों ने अवधेश से कहा की वे आरती की छोटी बहन के साथ शादी कर ले पर इसपर अवधेश ने ये कहकर इंकार कर दिया की वो अगर शादी करेगा तो आरती से ही करेगा और उसे ही अपनी जीवन संगिनी बनाएगा  और उसका पूरे जीवन साथ निभाएगा.

    वही अवधेश का ऐसा  फैसला  सुनकर आरती के घरवालों के बीच ख़ुशी की लहर दौड़ गयी और सबने इन दोनों के ही हौसले और हिम्मत को दिल से सलाम किया और दोनों की पूरी रीती रिवाज के साथ  शादी करवाई गयी और ये दोनों ही सभी के लिए एक मिशाल  कायम कर दिए और रियल लाइफ के हीरो बन गये.

    Latest Posts

    Don't Miss

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.