10.1 C
Delhi
Thursday, January 20, 2022

खिलौने वाली बंदूक लेकर पति-पत्नी पहुंचे ज्वेलरी शॉप लूटने, जानिये फिर क्या हुआ

आज - कल का ज़माना बदल रहा है। बच्चों की बंदूक लेकर चोरी होने लगी है। आपने चोरी-डकैती के बहुत से किस्से...
More

    Latest Posts

    राज कुंद्रा की जमानत पर पति को इतने दिनों बाद देख भावुक हुई शिल्पा, इस तरह बयान किया दर्द

    शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा कई दिनों से पोर्नोग्राफी मामले में पुलिस हिरासत में है. अब आखिरकार उन्हे जमानत...

    जब घर बुलाकर Jaya Bachchan ने Rekha से कही थी ऐसी बात,जिसके बाद टूट गया था अमिताभ और रेखा का रिश्ता

    ये इश्क की कहानी आज तक चर्चित है, और शायद आगे भी रहेगी।बतादें, बॉलीवुड की अधूरी प्रेम कहानी का जिक्र जब भी...

    देश में पहली बार : कर्नाटक का सरकारी स्कूल बनेगा सैटेलाइट डिजाइनिंग का हिस्सा,इसरो करेगा मदद

    जी हाँ, ये बात बिल्कुल सही है और इन बच्चों की मदद इसरो करेगा। बतादें, इसरो अब तक छात्रों के 6 सैटेलाइट...

    इस रहस्यमय कुंड में ताली बजाते ही ऊपर उठने लगता है पानी, बड़े-बड़े वैज्ञानिक भी मानते हैं इसे ‘कुदरत का करिश्मा’

    सचमुच दुनिया बड़ी ही करिश्माई है। जिसे जान गए वो आविष्कार और जिसे नहीं पता कर पाए वो चमत्कार। दरअसल, दुनिया में...

    हर महीने अपनी सैलरी से ₹10 हजार बचाकर गरीबों को रोटी-कपड़ा देता है यह पुलिसवाला

    आज के समय में बहुत से ऐसे समाजसेवी लोग है जो अपनों से पहले दूसरों की मदद के बारे में सोचते है। अगर हम सक्षम है तो गरीबों की मदद अपने हिसाब से करना चाहिए।

    क्योंकि बहुत से ऐसे गरीब लोग है जिनके पास रोटी कपड़ा मकान तक नहीं है। आदमी पैसों से नहीं दिल से अमीर होना चाहिए, तभी लोगों की मदद कर पायेगा। 

    इस बात को साबित किया है एक पुलिसवाला, दरअसल एक पुलिसवाला सच्चा हीरो बनकर सामने आया है जो हर महीने अपनी सैलरी से 10 हजार बचाकर गरीबों को रोटी-कपड़ा देता है।

    आदमी अपनी जेब से नहीं बल्कि दिल से अमीर होता है इस बात को इस पुलिसवाले ने साबित कर दिखाया है। आंध्र प्रदेश के के. कृष्ण मूर्ति ऐसे ही एक शख्स हैं। वो प्रत्येक माह अपनी सैलरी का एक हिस्सा गरीबों की मदद पर खर्च करते हैं। 

    पार्वतीपुरम नगर पुलिस स्टेशन में तैनात हेड कांस्टेबल कृष्ण मूर्ति श्रीकाकुलम जिले के वीरगट्टम मंडल के कोट्टुगुमदा गांव के निवासी हैं। वो कस्बे के साथ आस-पास के गांवों में रहने वाले जरूरतमंदों को राशन व कपड़े मुहैया करवाते हैं।

    इसके अलावा सर्दियों के मौसम में बुजुर्गों में कंबल भी बांटते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक वो साल 2017 से इस काम में लगे हुए है। हर महीने कृष्ण मूर्ति 30 ऐसे लोगों को चुनते हैं जिन्हें राशन और कपड़ों की सबसे ज्यादा जरूरत पड़ती है।

     इसके लिए वह उनकी जरूरत के सामान की लिस्ट बनाते हैं और 10 हजार रुपए से खरीदकर उन लोगों को उपलब्ध कराते हैं। आज के समय में ऐसा काम करना वाकई काबिलेतारीफ है। लेकिन इस पुलिसकर्मी ने बिना किसी चिंता के जरूरतमंद लोगों की मदद करने की ठान ली।

    Latest Posts

    राज कुंद्रा की जमानत पर पति को इतने दिनों बाद देख भावुक हुई शिल्पा, इस तरह बयान किया दर्द

    शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा कई दिनों से पोर्नोग्राफी मामले में पुलिस हिरासत में है. अब आखिरकार उन्हे जमानत...

    जब घर बुलाकर Jaya Bachchan ने Rekha से कही थी ऐसी बात,जिसके बाद टूट गया था अमिताभ और रेखा का रिश्ता

    ये इश्क की कहानी आज तक चर्चित है, और शायद आगे भी रहेगी।बतादें, बॉलीवुड की अधूरी प्रेम कहानी का जिक्र जब भी...

    देश में पहली बार : कर्नाटक का सरकारी स्कूल बनेगा सैटेलाइट डिजाइनिंग का हिस्सा,इसरो करेगा मदद

    जी हाँ, ये बात बिल्कुल सही है और इन बच्चों की मदद इसरो करेगा। बतादें, इसरो अब तक छात्रों के 6 सैटेलाइट...

    इस रहस्यमय कुंड में ताली बजाते ही ऊपर उठने लगता है पानी, बड़े-बड़े वैज्ञानिक भी मानते हैं इसे ‘कुदरत का करिश्मा’

    सचमुच दुनिया बड़ी ही करिश्माई है। जिसे जान गए वो आविष्कार और जिसे नहीं पता कर पाए वो चमत्कार। दरअसल, दुनिया में...

    Don't Miss

    देश में हो रही तेजी से पॉपुलर ‘माइक्रो वेडिंग’ ट्रेंड, यहाँ जाने क्या है सूक्ष्म शादी और क्या है इसके फायदें

    महामारी के समय में शादी करना किसी चुनौती से कम नहीं रहा है। हालांकि, अब जब स्थितियां कुछ सामान्य हुई हैं तो...

    जापान की इस कंपनी ने बनाया अपने कर्मचारियों के लिए अनोखा कानून

    आजकल के जमाने में सिगरेट पीना आम हो गया है, नौजवान ज्यादा इसकी जद में आ रहे है। जिसकी वजह से उनकी...

    जयपुर आ रहा था प्लेन हाईवे के पुल के नीचे फंसा, जानिए क्या है पूरा मामला

    हाल ही में पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर में एक अजीबोगरीब नजारा देखने को मिला। जिसे देखने के लिए काफी मात्रा में भीड़...

    भेड़ चराने वाले चरवाहे को मिला करोड़ों का पत्थर, इंसानियत के लिए दान कर दिया

    एक पुराना कथन है कि मजाक उतना ही करो जितना आप खुद सहन कर सकते हों। तात्पर्य यह कि मजाक हमेशा शालीनता...

    अमेरिका में गाय को 1 घंटे गले लगाने की फीस 16 हजार रु, जानें क्या है महामारी से निपटने की Cow Hug थेरेपी?

    अब ये सच्चाई है या फिर है अंधविश्वास, पता नहीं आखिर है क्या। लेकिन आज हम जो आपके साथ साझा करने जा...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.