14.1 C
Delhi
Thursday, December 8, 2022
More

    Latest Posts

    फरीदाबाद के पार्कों को बनाया जा रहा है स्मार्ट, किया जा रहा है ये बदलाव

    फरीदाबाद के नगर निगम क्षेत्र में पानी की सप्लाई यमुना नदी के पास लगे रेनिवेल से की जाती है। यहाँ भू-जल स्तर बहुत कम हो चुका है जिसके चलते नगर निगम ने 5 एकड़ से ज्यादा बड़े पार्कों में 50 केएलडी के सीवर शोधन संयंत्र (एसटीपी) लगवाने जा रहा है। आपको बता दें शहर में लगभग 700 ट्यूबवेल लगे हैं और पार्कों में रेनीवेल और ट्यूबवेल की मदद से पौधों की सिंचाई होती है। कभी कभी पानी की ज़्यादा आवश्यकता पड़ने पर नगर निगम को टैंकर का सहारा लेना पड़ता है। इन कमियों को दूर करने के लिए निगम पांच एकड़ से बड़े पाकों में 50 केएलडी का एसटीपी लगाने जा रहा है।

    कई कॉलोनियों में सीवर ओवरफ्लो की समस्या रहती है। ऐसे में 50 केएलडी के 10 एसटीपी कारगर साबित होंगे। दूसरी ओर इससे भू-जल दोहन में कमी आएगी। एसटीपी का पानी आसपास ग्रीनबेल्ट में भी प्रयोग में लाया जा सकेगा। बता दें कि नगर निगम क्षेत्र में करीब 259 एमएलडी घरेलू सीवर निकलता है। इसमें बादशाहपुर में 45 एमएलडी, प्रतापगढ़ में 50 और मिर्जापुर गांव में 45 एमएलडी का एसटीपी है। तीनों से करीब 157 एमएलडी पानी शोधित हो रहा है।

    जानकारी के लिए बता दें इस स्थान पर एक से लेकर पांच एमएलडी के 11 एसटीपी लगाए जाने हैं। संयंत्र लगाने के लिए दशहरा ग्राउंड को भी चयनित किया गया है जिसमें 2 एमएलडी लगाए जाने हैं। इसके अलावा प्याली चौक, गोल्फ कोर्स रोड, निगम नर्सरी, सेक्टर-45, -33, सेक्टर- 33, एनएचपीसी, सेक्टर- 12, सेक्टर नौ समेत अन्य जगहों पर लगाए जाने हैं। इसके अलावा एसटीपी नगर निगम रोज गार्डन एनआईटी, लेजरवैली पार्क, कल्पना चावला पार्क बल्लभगढ़, सूरदास पार्क, सर छोटू राम पार्क, फरीदपार्क ओल्ड डीएलएफ, रणवीर हुड्डा पार्क सेक्टर-17, जेड पार्क सेक्टर-16, सेक्टर-14 और सेक्टर-15 मार्केट पार्क में लगाया जाना है। सभी पार्क पांच से दस एकड़ में बने हैं।

    Latest Posts

    Don't Miss

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.