17.1 C
Delhi
Thursday, December 8, 2022
More

    Latest Posts

    इस योजना के तहत प्रदेश की बेटियों को सरकार देगी 25000 रुपए, ऐसे उठाएं लाभ

    बेटियों की शिक्षा के लिए केंद्र सरकार और राज्य की सरकारें कई तरह की योजनाएं लाती रहती हैं। ऐसी ही राज्य सरकार की तरफ से लाड़ली लक्ष्मी योजना (Ladli Laxmi Yojana) की शुरुआत की गई थी। इस योजना के तहत 6-12वीं कक्षा तक में एडमिशन लेने पर सहायता के तौर पर धनराशि दी जाती है। वहीं अब मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने लाड़ली लक्ष्‍मी योजना 2.0 को लॉन्‍च किया है, जिसके तहत कॉलेज में एडमिशन लेने पर छूट और सहायता धनराशि दी जाएगी।

    आपको बता दें कि इस नई योजना के तहत कॉलेज में एडमिशन लेने पर दो किश्‍त में 25 हजार रुपये सहायता धनराशि सरकार की तरफ से दिए जाएंगे और फीस का खर्चा भी सरकार उठाएगी। ऐसा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नई लाडली लक्ष्‍मी योजना का ऐलान करते हुए कहा।

    उन्होंने यह भी कहा कि जो पंचायतें लड़कियों के लिए अच्छा काम करेंगी उन्हें सम्‍मानित किया जाएगा। सीएम ने इस योजना की शुरुआत एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए की।

    7 से 8 लाख की मेडिकल फीस भरेगी सरकार

    सीएम ने कार्यक्रम के दौरान लाडली लक्ष्मी बुक का विमोचन और लाडली ई संवाद एप पेश किया। इसके साथ उन्होंने कुछ लड़कियों को ड्राइविंग लाइसेंस भी दिए। सीएम ने बताया कि इस समय प्रदेश में लक्ष्मी योजना के तहत रजिस्‍टर्ड लड़कियों की संख्या 42 लाख 14 हजार है। इसके साथ हो उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के 8 से 7 लाख रुपये फीस के लिए खर्च करने पड़ते हैं। अब यह फीस सरकार देगी।

    इन पंचायतों को मिलेगा सम्मान

    सरकार ने कहा कि इस नई लाडली लक्ष्‍मी योजना के तहत ऐसी पंचायतों को सम्‍मानित किया जाएगा, जहां एक भी बाल विवाह नहीं होगा, बच्चियां कुपोषित नहीं रहेंगी, बालिका अपराध घटित नहीं होगा, हर साल 100 प्रतिशत प्रवेश और टीकाकरण होगा उन्हें लाडली पंचायत घोषित किया जाएगा। उन्‍होंने क‍हा कि हर साल 2 मई से 12 मई तक लाडली लक्ष्मी उत्सव मनाया जाएगा।

    लाडली लक्ष्‍मी योजना का लाभ

    पुरानी लाडली लक्ष्‍मी योजना के तहत बेटियों के नाम से रजिस्ट्रेशन के समय लगातार 5 सालों तक  6-6 हजार रुपये मध्यप्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना निधि में दिया जाता है। यानी कुल 30000 रुपये बेटियों के नाम पर खर्च किए जाते हैं। लड़की के कक्षा 6 में एडमिशन लेने पर 2000 रुपये, कक्षा 9वीं में एडमिशन लेने पर 4000 रुपये, कक्षा 11वीं में एडमिशन लेने पर 6000 रुपये और12वीं एडमिशन लेने पर 6000 रुपये ई-पेमेंट के माध्यम से सहायता धनराशि दी जाती है।

    इसके आलावा इस योजना के तहत लड़कियों के 21 साल की उम्र होने और 12वीं कक्षा में एडमिशन लेने पर 1 लाख रुपये दिया जाता है। हालांकि इसमें शर्त यह है कि लड़कियों की शादी 18 साल की उम्र के पहले नहीं होनी चाहिए।

    कौन है इस योजना के लिए पात्र

    • जिनका परिवार इनकम टैक्‍स न भरता हो।
    • लड़की के माता-पिता मध्य प्रदेश के मूल निवासी होने चाहिए।
    • एक परिवार की दो लड़कियों को दिया जाएगा लाभ, यानी दूसरी बालिका के आवेदन करने से पूर्व माता या पिता ने परिवार नियोजन अपना लिया हो।

    इस योजना में ऐसे करें अप्लाई:

    • आंगनवाडी कार्यकर्ता के माध्यम से आप परियोजना कार्यालय/लोक सेवा केन्द्र अथवा किसी भी इंटरनेट कैफे से आवेदन करा सकते हैं।
    • आवेदन स्वीकार होने के बाद लड़की के नाम से सरकार के विभाग की तरफ से 1,18,000 रुपये का प्रमाण पत्र जारी किया।
    • इसके आलावा आप ladlilaxmi.mp.gov.in की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर भी आवेदन कर सकते हैं।

    Latest Posts

    Don't Miss

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.