12.1 C
Delhi
Friday, January 27, 2023
More

    Latest Posts

    जानें आखिर क्यों Alia और Ranbir ने शादी के फेरे नहीं किए पूरे, Mahesh Bhatt को बताया वजह

    इन दिनों बॉलीवुड (Bollywood) के गलियारों में एक्टर रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) और एक्ट्रेस आलिया भट्ट (Alia Bhatt) की शादी के चर्चे हो रहे हैं। 14 अप्रैल 2022 को मुंबई (Mumbai) में यह शादी के बंधन में बंधे थे। बॉलीवुड ही नहीं बल्कि सभी फैंस इनकी शादी को लेकर काफी खुश हैं, इन्हें शुभकामनाएं दे रहे हैं। इसी बीच शादी के फेरों को लेकर हर जगह से विरोधाभासी बातें सामने आ रही हैं। आलिया के रिश्ते के भाई राहुल का कहना है कि पंडित के सामने चार ही फेरे लिए गए थे। वहीं दूसरी तरफ सूत्रों की माने तो महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) ने बेटी आलिया को सातवां वचन देने से रोक दिया था।

    इसमें सबसे दिलचस्प बात यह है कि यह दोनों ही रिपोर्ट्स दैनिक भास्कर की ओर से प्रकाशित की गई हैं। एक रिपोर्ट में राहुल भट्ट के हवाले से कहा गया है कि शादी कराने वाले पंडित के सामने रणबीर और आलिया ने केवल चार ही फेरे लिए।

    राहुल का कहना है कि वह एक ऐसे परिवार से ताल्लुक रखते हैं, जिसमें कई धर्म और संस्कृति के लोग हैं। इसलिए उन्हें इसके बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं है चेहरे की यह सब बातें उनके लिए काफी इंटरेस्टिंग थी।

    वहीं दूसरी रिपोर्ट में कहा गया है कि रणवीर और आलिया ने शादी (Wedding of Ranbir Kapoor and Alia Bhatt) में सात की जगह केवल 6 ही फेरे लिए और इसकी वजह है आलिया के पिता महेश भट्ट को बताया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि महेश भट्ट ने अपनी बेटी को आखरी वचन लेने से रोक दिया। उनका कहना था कि उन्होंने अपनी शादी में अपनी पत्नी से यह वचन नहीं लिए थे, तो अपनी बेटी को कैसे लेने दे सकते हैं। हिंदू धर्म के अनुसार शादी में सात फेरे लिए जाते हैं। हर फेरा एक वचन होता है।

    बता दें कि शादी से पहले आई रिपोर्ट में कहा गया था कि हिंदू परंपराओं के अनुसार ही यह जोड़ी शादी करेगी। लेकिन कन्यादान को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं थी। दरअसल पिछले साल एक विज्ञापन में आलिया ने कन्यादान को पिछड़ी सोच बताया था।

    गौरतलब है कि आलिया के पिता महेश भट्ट की मां शिरीन मोहम्मद अली एक मुस्लिम थी, तो वहीं पिता नानाभाई भट्ट गुजराती ब्राह्मण थे। इस तरह से महेश भट्ट गुजराती ब्राह्मण और मुस्लिम दोनों ही थे। ऐसे में यह साफ नहीं है कि शादी में इस्लामिक रीति-रिवाजों का पालन किया जाएगा या नहीं।

    इसी तरह आलिया की माँ, सोनी राजदान कश्मीरी हिंदू होने के साथ-साथ ईसाई भी हैं। उनके पिता नरेंद्र नाथ राजदान कश्मीरी पंडित हैं तो वहीं उनकी माँ गर्ट्रूड होलज़र ब्रिटिश-जर्मन हैं।

    Latest Posts

    Don't Miss

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.