11.1 C
Delhi
Thursday, January 20, 2022

खिलौने वाली बंदूक लेकर पति-पत्नी पहुंचे ज्वेलरी शॉप लूटने, जानिये फिर क्या हुआ

आज - कल का ज़माना बदल रहा है। बच्चों की बंदूक लेकर चोरी होने लगी है। आपने चोरी-डकैती के बहुत से किस्से...
More

    Latest Posts

    राज कुंद्रा की जमानत पर पति को इतने दिनों बाद देख भावुक हुई शिल्पा, इस तरह बयान किया दर्द

    शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा कई दिनों से पोर्नोग्राफी मामले में पुलिस हिरासत में है. अब आखिरकार उन्हे जमानत...

    जब घर बुलाकर Jaya Bachchan ने Rekha से कही थी ऐसी बात,जिसके बाद टूट गया था अमिताभ और रेखा का रिश्ता

    ये इश्क की कहानी आज तक चर्चित है, और शायद आगे भी रहेगी।बतादें, बॉलीवुड की अधूरी प्रेम कहानी का जिक्र जब भी...

    देश में पहली बार : कर्नाटक का सरकारी स्कूल बनेगा सैटेलाइट डिजाइनिंग का हिस्सा,इसरो करेगा मदद

    जी हाँ, ये बात बिल्कुल सही है और इन बच्चों की मदद इसरो करेगा। बतादें, इसरो अब तक छात्रों के 6 सैटेलाइट...

    इस रहस्यमय कुंड में ताली बजाते ही ऊपर उठने लगता है पानी, बड़े-बड़े वैज्ञानिक भी मानते हैं इसे ‘कुदरत का करिश्मा’

    सचमुच दुनिया बड़ी ही करिश्माई है। जिसे जान गए वो आविष्कार और जिसे नहीं पता कर पाए वो चमत्कार। दरअसल, दुनिया में...

    कभी 15 – 15 रुपए में धोते थे कैंटीन में बर्तन, आज इस प्लान से खड़ी की 250 करोड़ की कंपनी

    आपकी किस्मत किस समय बदल जाये कोई नहीं जानता। आप सबकुछ हासिल कर सकते हैं अगर आप हार नहीं मानते हैं। आज साउथ इंडियन फूड के लिए चर्चित देश के खास रेस्तराओं में एक है सागर रत्ना। इस रेस्टोरेंट की दुनिया भर में ब्रांचेज हैं। लेकिन आप शायद ही जानते होंगे कि इस रेस्‍टोरेंट चेन को स्थापित करने वाले शख्‍स ने कभी 18 रुपये के वेतन पर एक कैंटीन में प्‍लेट धोया था।

    दृढ़ इच्छाशक्ति आपको सफलता के शिखर तक पंहुचा सकती है। बस आपको सकारात्मक रहना होगा। कठिनाइयों से हार न मानते हुए और अपने दम पर कुछ कर दिखाने की चाह ने जयराम बानन को एक बड़ी और फेमस रेस्‍टोरेंट चेन का मालिक बना दिया है। जयराम का जन्‍म मंगलौर के पास स्थित ‘उडुपी’ में हुआ था। उनके पिता ड्राइवर थे और बहुत ही गुस्‍सैल स्‍वभाव के थे। कई बार गलती करने पर उनके पिता ने बानन की आंख में मिर्ची पाउडर तक डाल दिया था।

    गरीबी की यादें अभी भी उन्हें याद है। जब तक आप कड़ी मेहनत नहीं करते हैं तब तक कुछ हासिल नहीं होता है। कई दिनों तक भटकने के बाद जयराम को एक कैंटीन में नौकरी मिली थी। इसमें प्‍लेट धोने से लेकर टेबल साफ करने का काम उन्हें दिया गया था। इसके लिए उन्हें मासिक सैलरी 18 रुपये मिलती थी। जयराम उडुपी समुदाय से ताल्‍लुक रखते हैं. इसी समुदाय ने मुंबई में मसाला-डोसा से सभी को परिचय कराया है। मुंबई में बहुत सारे कॉम्‍पिटीटर को देखते हुए बानन ने दिल्‍ली का रुख करना बेहतर समझा।

    आपको निरंतर प्रयास करने होते हैं। उन्होंने बहुत संघर्ष के बाद इस सफलता को हासिल किया है। 1973 में जयराम मुंबई से दिल्‍ली आये थे। दिल्‍ली में इनका भाई एक उडुपी रेस्‍टोरेंट में काम करता था। यहां पर आकर बानन ने 1974 सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्‍स की कैंटीन का टेंडर लिया। 1986 में बानन ने 5 हजार रुपये की सेविंग और दोस्तों-रिश्तेदारों से लोन लेकर डिफेंस कॉलोनी में सागर नाम से पहला आउटलेट खोला।

    किसी भी बड़े मुकाम को हासिल करने के लिए काफी संघर्षों का सामना करना पड़ता है। यहां पर बानन को सप्ताह में 3,250 रुपये रेंट देना होता था। इस आउटलेट में 40 लोगों के बैठने की जगह थी। पहले दिन की बिक्री 408 रुपए की हुई थी। बानन बताते हैं कि दिल्ली में शुरुआती दिन काफी कठिन थे, क्योंकि लोग दक्षिणी भारतीय डिश से ज्यादा अवगत नहीं थे। लेकिन खुद पर भरोसा था। आज इनकी सफलता की कहानी सभी की ज़ुबान पर है।

    Latest Posts

    राज कुंद्रा की जमानत पर पति को इतने दिनों बाद देख भावुक हुई शिल्पा, इस तरह बयान किया दर्द

    शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा कई दिनों से पोर्नोग्राफी मामले में पुलिस हिरासत में है. अब आखिरकार उन्हे जमानत...

    जब घर बुलाकर Jaya Bachchan ने Rekha से कही थी ऐसी बात,जिसके बाद टूट गया था अमिताभ और रेखा का रिश्ता

    ये इश्क की कहानी आज तक चर्चित है, और शायद आगे भी रहेगी।बतादें, बॉलीवुड की अधूरी प्रेम कहानी का जिक्र जब भी...

    देश में पहली बार : कर्नाटक का सरकारी स्कूल बनेगा सैटेलाइट डिजाइनिंग का हिस्सा,इसरो करेगा मदद

    जी हाँ, ये बात बिल्कुल सही है और इन बच्चों की मदद इसरो करेगा। बतादें, इसरो अब तक छात्रों के 6 सैटेलाइट...

    इस रहस्यमय कुंड में ताली बजाते ही ऊपर उठने लगता है पानी, बड़े-बड़े वैज्ञानिक भी मानते हैं इसे ‘कुदरत का करिश्मा’

    सचमुच दुनिया बड़ी ही करिश्माई है। जिसे जान गए वो आविष्कार और जिसे नहीं पता कर पाए वो चमत्कार। दरअसल, दुनिया में...

    Don't Miss

    चिमनी के रास्ते घर में जा रही थी लड़की, बाद में हुआ कुछ ऐसा कि सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे

    घर की चाबी जब खो जाती है तो जान पर बन जाती है। मुसीबत बन जाती है। आपने देखा होगा या सुना...

    200 रुपये महीने वाकई नौकरी से लेकर 15 फ्रैंचाइज़ी खोलने तक का सफर, जानिए कहानी सुनील की

    कुछ कर दिखाने के लिए सच्ची लगन और मेहनत होनी चाहिए फिर किस्मत आपकी कब कदम चूम ले ये कोई नहीं जानता।...

    बार-बार कोशिश की लेकिन 100 के दस नोट गिनने में फेल हो गया दूल्हा, दुल्हन ने शादी से किया इनकार

    सोशल मीडिया पर आए दिन अजीबोगरीब खबरें आती रहती है। अब एक खबर उत्तर प्रदेश से सामने आई है जहां दूल्हा कुछ...

    प्यार हो तो ऐसा : दुबई की नौकरी छोड़कर बिहार पहुंचा प्रेमी, प्रेमिका को थाने में बुलाकर भरी मांग

    अगर प्यार सच्चा हो तो वो मंजिल पा ही लेता है। प्यार से बड़ी ताकत कोई नहीं होती है। प्यार के आगे...

    अजब: पूर्व पत्नी को देना था गुजारा भत्ता, ठेले पर 9 कुंतल सिक्के लेकर कोर्ट पहुंच गया ये शख्स

    इंडोनेशिया में पारिवारिक झगड़े का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। सोलो में एक सरकारी कर्मचारी अपनी पत्नी को गुजारा भत्ता देने...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.