37.1 C
Delhi
Wednesday, May 22, 2024
More

    Latest Posts

    दुनिया की सबसे खूबसूरत महारानी को कभी रहना पड़ा था तिहाड़ जेल में, इंदिरा गांधी ने भेजा था जेल

    तिहाड़ जेल का माहौल किसी मच्छी बाज़ार जैसा था। मामूली चोर उचक्कों और वेश्याओं की चीखें गूंजती रहती थीं। यह बात जयपुर की प्रसिद्ध महारानी गायत्री देवी ने बाद में कही थी, जब उनसे पूछा गया था कि इमरजेंसी के दौरान जेल में उनके क्या अनुभव रहे।

    तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 1975 में जब आपातकाल की घोषणा की थी तब कई पत्रकारों, विरोधी नेताओं, कलाकारों के साथ गायत्री देवी को भी छह महीने के लिए कैद किया गया था।

    लेकिन क्यों? इसके पीछे एक कहानी रही है, जो राजनीतिक इतिहास के साथ ही दो शीर्ष महिलाओं के बीच वर्चस्व की जंग में ईर्ष्या का पहलू भी समेटे हुए है। बतादें जयपुर की तीसरी महारानी गायत्री देवी को इमरजेंसी के दौरान जुलाई, 1975 में 6 महीने के लिए तिहाड़ जेल भेज दिया गया था।

    इसके पीछे प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का हाथ था। आखिर गायत्री देवी ने वहां कैसा अनुभव किया? तिहाड़ जेल मछली बाजार की तरह था, जो छोटे-मोटे चोर और चीखती-चिल्लाती वेश्याओं से भरा हुआ था। ये कहना था गायत्री देवी का. 23 मई को गायत्री देवी का जन्मदिन है।

    इस मौके पर उनके जीवन के खास पलों पर नजर डालते हैं। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाधी के साथ उनके रिश्तों पर भी चर्चा जरूरी है। इमरजेंसी के दौरान प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने जिन लोगों को जेल भिजवाया, उनमें विपक्ष के कई नेता, पत्रकार और अन्‍य लोग शामिल थे।

    कई लोगों को आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था अधिनियम के तहत जेल में रखा गया था। इनमें इंदिरा गांधी के निशाने पर कूच बिहार की राजकुमारी और जयपुर की तीसरी महारानी गायत्री देवी भी थीं, जिन्हें राजमाता के नाम से भी जाना जाता था।

    गायत्री देवी को इमरजेंसी घोषित करने के बाद तिहाड़ जेल भेज दिया गया था। गायत्री देवी का जन्म पूर्व महाराजा जितेंद्र नारायण भूप बहादुर के घर 23 मई, 1919 को हुआ था। उनके बचपन का नाम आयशा था, लेकिन एक दिन उनकी मां की एक मुस्लिम सहेली ने जब उनको ये कहा कि आयशा तो इस्‍लाम वाला नाम है, तो उनकी मां ने आयशा से बदलकर उनका नाम गायत्री रखा दिया।

    गायत्री देवी और महाराजा मानसिंह की पहली मुलाकात लंदन में पोलो ग्राउंड पर हुई थी। उनकी खूबसूरती पर महाराजा फिदा हो गए थे। पहले से 2 बार शादी कर चुके महाराजा मानसिंह ने 9 मई, 1940 को गायत्री देवी से शादी कर ली। तो इस तरह से इंदिरा गांधी ने अपनी शक्ति के आगे सभी को झुकाकर रखा था। और यही कारण भी है कि इंदिरा गांधी को आयरन लेडी भी कहा जाता है।

    Latest Posts

    Don't Miss

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.