35.1 C
Delhi
Thursday, July 7, 2022

फरीदाबाद में हुआ अंडर-18 नेशनल रैंकिंग टेनिस चैंपियनशिप का आयोजन, खिलाडियों ने दिखाया धमाकेदार प्रदर्शन

सेक्टर-12 में चल रही अंडर-18 नेशनल रैंकिंग टेनिस चैंपियनशिप में हन्ना नागपाल ने सौम्या आर्या को 6-2, 6-0 से हराया। आरुषि मनचंदा...
More

    Latest Posts

    फरीदाबाद में सीवर लीकेज से परेशान हैं शहरवासी, सीएम विंडो पर शिकायत के बावज़ूद नहीं हुई कार्यवाही

    फरीदाबाद में कई जगहों पर लोग सीवर जाम और सड़कों पर पानी जाम से परेशान हैं। आपको बता दें फरीदाबाद बड़खल विधानसभा...

    छह लेन सड़क बनाने के लिए तोड़ी गई पार्क की दीवार, लेकिन बन्द पड़ा है कार्य

    फरीदाबाद में कुछ जगहों पर जहाँ एक ओर नये पार्क बनाये जा रहे हैं, पार्क को साफ सुथरा बनाया जा रहा है...

    फरीदाबाद के इस अस्पताल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन, तैयारियाँ की जा रही है पूरी

    ग्रेटर फरीदाबाद में मां अमृतानंदमयी अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। आपको बता दें इस अस्पताल का उद्घाटन करने प्रधानमंत्री नरेंद्र...

    फरीदाबाद के इन दो तालाबों का होगा कायाकल्प, बनाया जायेगा अमृत सरोवर, खर्च होंगे 2.73 करोड़

    फरीदाबाद के दो तालाबों को अमृत सरोवर बनाने की हो रही है तैयारी। आपको बता दें केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर...

    महिला ने इंसानियत को दिया नया मुकाम, जॉब छोड़ संक्रमित शवों का कर रही अंतिम संस्कार

    कोरोना महामारी की जंग से सभी हो रहे दो-चार। कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए पहले ICU बेड्स, ऑक्सीजन सिलेंडर और जरूरी दवाओं के लिए भागदौड़ और दुर्भाग्य से किसी मरीज की कोविड-19 से मौत हो जाती है तो फिर उसके अंतिम संस्कार के लिए लंबी वेटिंग।

    अगर ज़िक्र झारखंड की राजधानी रांची की करें तो यहां कोविड-19 मौतों के लिए एकमात्र मुक्तिधाम श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार के लिए लंबी वेटिंग को देखते हुए लोगों का सब्र जवाब दे गया।

    बतादें घाघरा नामकुम रोड को जाम कर दिया। दरअसल,रांची में हर रोज़ कोरोना से औसतन लगभग 50 मौत हो रही है। कोविड-19 मृतकों के लिए रांची में घाघरा नदी के तट पर सिर्फ एक श्मशान घाट है।

    एक अंतिम संस्कार पूरा होने में कम से कम साढ़े तीन घंटे का समय लगता है। ऐसे में अंतिम संस्कार के इंतजार में लंबी कतार लग जाती है। सोमवार को स्थिति और खराब हो गई जब चिताएं जलाने के लिए श्मशान घाट पर लकड़ी की ही कमी हो गई।

    अब ऐसे समय में कोई करे भी तो क्या करे, खैर अब आपको एक उदाहरण हम देने जा रहे हैं, एक ऐसी महिला का जो अपने आप में ही एक बहुत बड़ी ताकत है, मिसाल है।

    बतादें आपको जहाँ, अपने दे रहे हैं तिलांजलि तो अंतिम यात्रा में कंधा दे रही हैं मधुस्मिता नाम की ये महिला। वह कहती हैं कि उन्होंने भुवनेश्वर नगर निगम के साथ कोविड के शव को कोविड अस्पताल से लेने और भुवनेश्वर के श्मशान में शव का अंतिम संस्कार करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

    कोरोना संकटकाल में लाखों की संख्या में लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना संक्रमण के खौफ के कारण लोग अपने ही कोरोना संक्रमित रिश्तेदारों का अंतिम संस्कार नहीं कर रहे हैं। ऐसे में भुवनेश्वर मधुस्मिता, जो दूसरों के लिए मोक्षदायनी बन रही हैं।

    कोलकाता में एक अच्छी तनख्वाह की नौकरी करने वाली नर्स मधुस्मिता प्रुस्टी ने अपने नौकरी तक छोड़ दी है और वह भुवनेश्वर में कोविड और लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करने में अपने पति की मदद कर रही हैं।

    मधुस्मिता प्रुस्टी ने बताया कि, वह कोलकाता के फोर्टिस अस्पताल के बाल रोग विभाग में नर्स के रूप में काम कर रही थी। उन्होंने कोलकाता में 2011-19 तक नौ साल तक मरीजों की सेवा की। लेकिन इसके बाद उन्होंने ओडिशा लौटने और अपने पति की मदद करने का फैसला किया क्योंकि पैर में चोट लगने के कारण दाह संस्कार का काम नहीं कर सके।

    असल में उनके पति पहले से ही लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार कर रहे हैं। मुधस्मिता का कहना है कि 2019 में ओडिशा वापस आने के बा उन्होंने रेलवे ट्रैक, आत्महत्या के मामलों और अस्पतालों में मिले परित्यक्त शवों का अंतिम संस्कार करने में अपने पति की मदद करना शुरू किया।

    मुधस्मिता अभी तक करीब 500 के आसपास शवों का अंतिम संस्कार करा चुकी हैं, जिसके लिए उन्हें ख़ूब सराहा जा रहा है। वो कहती है कि इससे ही उनका हौसला और बढ़ रहा है, इसीलिए वो पूरी ताकत के साथ, पूरे मन से इसी काम में लगी हैं और यूंही लगी रहेंगी।

    Latest Posts

    फरीदाबाद में सीवर लीकेज से परेशान हैं शहरवासी, सीएम विंडो पर शिकायत के बावज़ूद नहीं हुई कार्यवाही

    फरीदाबाद में कई जगहों पर लोग सीवर जाम और सड़कों पर पानी जाम से परेशान हैं। आपको बता दें फरीदाबाद बड़खल विधानसभा...

    छह लेन सड़क बनाने के लिए तोड़ी गई पार्क की दीवार, लेकिन बन्द पड़ा है कार्य

    फरीदाबाद में कुछ जगहों पर जहाँ एक ओर नये पार्क बनाये जा रहे हैं, पार्क को साफ सुथरा बनाया जा रहा है...

    फरीदाबाद के इस अस्पताल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन, तैयारियाँ की जा रही है पूरी

    ग्रेटर फरीदाबाद में मां अमृतानंदमयी अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। आपको बता दें इस अस्पताल का उद्घाटन करने प्रधानमंत्री नरेंद्र...

    फरीदाबाद के इन दो तालाबों का होगा कायाकल्प, बनाया जायेगा अमृत सरोवर, खर्च होंगे 2.73 करोड़

    फरीदाबाद के दो तालाबों को अमृत सरोवर बनाने की हो रही है तैयारी। आपको बता दें केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर...

    Don't Miss

    15 सालों से यह महिला हर दिन खाती है 200 ग्राम टैलकम पाउडर, खर्च कर चुकी है 7.5 लाख रुपये

    दुनिया में हर इंसान एक सा नहीं होता है, इसलिये इंसानो की आदतें और शौक़ भी अलग-अलग होते हैं। हालाकि, कुछ लोगों...

    हरियाणा में जल्द होने वाली है एक हजार कोच और योग शिक्षकों की भर्ती, हजारों गांवों का होगा खूब लाभ

    हरियाणा सरकार में प्रदेश की जनता के लिए एक और महत्वपूर्ण फैसला लिया है इससे हरियाणा के 6000 गांव को फायदा होने...

    अगर करना चाहते हैं लाखों की कमाई तो घर बैठे शुरू करें यह 12 महीने चलने वाला बिजनेस

    आज के समय में में ज्यादातर युवा अपना स्टार्टअप शुरू करना चाहता है। इन दिनों लोगो का ध्यान नौकरी पर नहीं बल्कि...

    बंदर ने दिखाया इंसानियत ऐसा नमूना, पिल्ले को गोद मे लेकर दिया माँ का प्यार

    हम इंसानों को कभी-कभी जानवर भी एक अच्छी सीख दे जाते हैं और ये भी जाहिर कर देते हैं कि इंसानों से...

    कुत्ता समझकर घर ले आये परिवार वाले, डॉक्टर ने देखते ही बुला ली पुलिस

    कुत्ता समझकर घर ले आये परिवार वाले, डॉक्टर ने देखते ही बुलाई पुलिस :- आपने आजतक सुना होगा की कुत्ता सबसे वफादार...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.