35.1 C
Delhi
Thursday, July 7, 2022

फरीदाबाद में हुआ अंडर-18 नेशनल रैंकिंग टेनिस चैंपियनशिप का आयोजन, खिलाडियों ने दिखाया धमाकेदार प्रदर्शन

सेक्टर-12 में चल रही अंडर-18 नेशनल रैंकिंग टेनिस चैंपियनशिप में हन्ना नागपाल ने सौम्या आर्या को 6-2, 6-0 से हराया। आरुषि मनचंदा...
More

    Latest Posts

    फरीदाबाद में सीवर लीकेज से परेशान हैं शहरवासी, सीएम विंडो पर शिकायत के बावज़ूद नहीं हुई कार्यवाही

    फरीदाबाद में कई जगहों पर लोग सीवर जाम और सड़कों पर पानी जाम से परेशान हैं। आपको बता दें फरीदाबाद बड़खल विधानसभा...

    छह लेन सड़क बनाने के लिए तोड़ी गई पार्क की दीवार, लेकिन बन्द पड़ा है कार्य

    फरीदाबाद में कुछ जगहों पर जहाँ एक ओर नये पार्क बनाये जा रहे हैं, पार्क को साफ सुथरा बनाया जा रहा है...

    फरीदाबाद के इस अस्पताल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन, तैयारियाँ की जा रही है पूरी

    ग्रेटर फरीदाबाद में मां अमृतानंदमयी अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। आपको बता दें इस अस्पताल का उद्घाटन करने प्रधानमंत्री नरेंद्र...

    फरीदाबाद के इन दो तालाबों का होगा कायाकल्प, बनाया जायेगा अमृत सरोवर, खर्च होंगे 2.73 करोड़

    फरीदाबाद के दो तालाबों को अमृत सरोवर बनाने की हो रही है तैयारी। आपको बता दें केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर...

    जानिये कौन हैं इन तेज तर्रार प्रवक्ताओं के पति, किसी ने बिल्डर तो किसी ने बैंकर से की शादी

    भारत की राजनीति में महिलाओं की भागीदारी कम होने के पीछे अब तक समाज में वजह शायद पुरूष ही रहे हैं।यह न सिर्फ़ महिलाओं को राजनीति में आने से हतोत्साहित करता है बल्कि राजनीति के प्रवेशद्वार की बाधाओं की तरह काम करता है।

    लेकिन राजनीतिक दलों के भेदभावपूर्ण रवैये के बावजूद अगर बात महिलाओं की मात्र एक मतदाता के रूप में करें तो महिलाओं की भागीदारी नब्बे के दशक के अंत से उल्लेखनीय रूप से बढ़ी है।

    राजनैतिक दल

    ऐसे में यह अनिवार्य हो जाता है कि चुनावों के विभिन्न स्तर पर महिलाओं की भागीदारी का विश्लेषण किया जाए ताकि यह पता लगाया जा सके कि आज़ादी के साढ़े छह दशक बाद भी इसमें ग़ैरबराबरी क्यों है।

    लेकिन इसी बीच अगर बात राजनीतिक दलों में महिला प्रवक्ताओं की करें तो यहां पर महिलाओं का दबदबा अपने आप में ही अलग है, रौब वाला है, रुतबे वाला है। क्यों यकीन नहीं आता तो ये पढ़िए।

    बतादें पार्टी प्रवक्ता का पद काफी मायने रखता है और ये सभी महिला नेत्री इन उम्मीदों पर खरी उतरती है। लेकिन क्या आप इनके पतियों के बारे में जानते हैं। अगर नहीं तो आइए आज आपको कुछ चर्चित महिला प्रवक्ताओं के पति के बारे में बताते हैं।

    शमा मोहम्मद

    शमा मोहम्मद

    शमा मोहम्मद कांग्रेस पार्टी से संबंध रखती है। शमा मोहम्मद ने स्टेफनो पेल्ले से शादी रचाई थी। शमा के पति काम क्या करते हैं इसे लेकर फिलहाल कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है। प्रियंका चतुर्वेदी शिव सेना से संबंध रखती हैं।

    प्रियंका चतुर्वेदी

    प्रियंका चतुर्वेदी

    41 साल की प्रियंका चतुर्वेदी राज्यसभा की सदस्य है और वे अक्सर अपने तेजतर्रार बयानों और छवि के लिए जानी जाती है। शिव सेना की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने विक्रम चतुर्वेदी से शादी की थी। विक्रम सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट कंपनी IBM में बतौर चैनल मार्केटिंग और प्रोग्राम मैनेजर के रूप में काम करते हैं।

    शाजिया इल्मी

    शाजिया इल्मी

    शाजिया इल्मी भारतीय जनता पार्टी से संबंध रखती हैं। 51 साल की शाजिया इल्मी पहले टीवी पत्रकार और एंकर रह चुकी हैं। साल 2015 में शाजिया ने भाजपा का दामन थामा था। शाजिया ने साजिद मलिक से शादी की थी।

    शाजिया के पति साजिद पेशे से इन्वेस्टमेंट बैंकर हैं। रागिनी नायक कांग्रेस से संबंध रखती हैं। रागिनी कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं। अपनी तेज तर्रार छवि के साथ ही रागिनी नायक अपनी ख़ूबसूरती के लिए भी काफी चर्चित है।

    रागिनी नायक

    रागिनी नायक

    रागिनी नायक ने अशोक बसोया से शादी की थी। ख़ास बात यह है कि, अशोक बसोया भी कांग्रेस पार्टी के ही नेता हैं। शाइना एन सी भारतीय जनता पार्टी से संबंध रखती हैं। वे वर्तमान में भाजपा महाराष्ट्र इकाई में प्रवक्ता है और समाजिक कार्यकर्ता के रूप में NGO भी चलाती है।

    शाइना एन सी

    शाइना एन सी

    48 साल की शाइना एन सी ने मनीष मुणोत से शादी की थी। मनीष पेशे से एक बिल्डर हैं। सुप्रिया श्रीनाटे कांग्रेस से संबंध रखती हैं। सुप्रिया श्रीनाटे कांग्रेस की तेज तर्रार राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं। बता दें कि, सुप्रिया के पति का नाम धीरेन्द्र सिंह हैं।

    सुप्रिया श्रीनाटे

    सुप्रिया श्रीनाटे

    सुप्रिया के पति एक फाइनेंस बीमा कंपनी में कार्यरत हैं। सुप्रिया सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय पाई जाती है और अक्सर वे केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी पर तीखे हमले करती हैं। इस तरह से अभी ना जाने कितने नाम और हैं, लेकिन यहां के मुकाबले महिलाएं ज़्यादा स्ट्रांग शायद कहीं और नज़र नहीं आती हैं।

    Latest Posts

    फरीदाबाद में सीवर लीकेज से परेशान हैं शहरवासी, सीएम विंडो पर शिकायत के बावज़ूद नहीं हुई कार्यवाही

    फरीदाबाद में कई जगहों पर लोग सीवर जाम और सड़कों पर पानी जाम से परेशान हैं। आपको बता दें फरीदाबाद बड़खल विधानसभा...

    छह लेन सड़क बनाने के लिए तोड़ी गई पार्क की दीवार, लेकिन बन्द पड़ा है कार्य

    फरीदाबाद में कुछ जगहों पर जहाँ एक ओर नये पार्क बनाये जा रहे हैं, पार्क को साफ सुथरा बनाया जा रहा है...

    फरीदाबाद के इस अस्पताल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन, तैयारियाँ की जा रही है पूरी

    ग्रेटर फरीदाबाद में मां अमृतानंदमयी अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। आपको बता दें इस अस्पताल का उद्घाटन करने प्रधानमंत्री नरेंद्र...

    फरीदाबाद के इन दो तालाबों का होगा कायाकल्प, बनाया जायेगा अमृत सरोवर, खर्च होंगे 2.73 करोड़

    फरीदाबाद के दो तालाबों को अमृत सरोवर बनाने की हो रही है तैयारी। आपको बता दें केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर...

    Don't Miss

    समुद्र शास्त्र के अनुसार जानिए नाखून पर बने आधे चाँद की सच्चाई, क्या आप जानते इसका मतलब?

    व्यक्ति के शरीर में कई तरह के निशान पाए जाते है। ज्योतिष विज्ञान के हिसाब से हर निशान का एक अलग मतलब...

    सुष्मिता सेन के 11 ‘बॉयफ्रेंड’: कभी 16 साल बड़े बिजनेसमैन तो कभी 15 साल छोटे मॉडल से रहा रिश्ता

    बॉलीवुड एक्ट्रेस और पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन (Sushmita Sen) का कहना है कि उनकी जिंदगी में आए लोग निराश थे, इस...

    अजब: मंदिर में इस कारण से बजाई जाती हैं घंटी, वैज्ञानिक कारण जानकर दंग रह जाएंगे आप

    हिंदू धर्म से जुड़े प्रत्येक मंदिर और धार्मिक स्थलों के बाहर आप सभी ने बड़े-बड़े घंटे या घंटियां लटकी तो अवश्य देखी...

    20 साल में 40 बार मिला ट्रांसफर, फिर भी नही मानी इस दबंग महिला अफसर ने हार

    जी हां दोस्तों, डी रूपा, एक ऐसा नाम, जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। डी रूपा ने जब...

    New Traffic Rules: गाड़ी के सारे कागजात होने के बावजूद कट सकता है ₹2000 का चालान, जानें क्या हैं नए नियम?

    पहले तो वाहन चालकों का चालान ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन करने पर या तो गाड़ी के कागजात ना होने पर कटता था।...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.