35.1 C
Delhi
Thursday, July 7, 2022

फरीदाबाद में हुआ अंडर-18 नेशनल रैंकिंग टेनिस चैंपियनशिप का आयोजन, खिलाडियों ने दिखाया धमाकेदार प्रदर्शन

सेक्टर-12 में चल रही अंडर-18 नेशनल रैंकिंग टेनिस चैंपियनशिप में हन्ना नागपाल ने सौम्या आर्या को 6-2, 6-0 से हराया। आरुषि मनचंदा...
More

    Latest Posts

    फरीदाबाद में सीवर लीकेज से परेशान हैं शहरवासी, सीएम विंडो पर शिकायत के बावज़ूद नहीं हुई कार्यवाही

    फरीदाबाद में कई जगहों पर लोग सीवर जाम और सड़कों पर पानी जाम से परेशान हैं। आपको बता दें फरीदाबाद बड़खल विधानसभा...

    छह लेन सड़क बनाने के लिए तोड़ी गई पार्क की दीवार, लेकिन बन्द पड़ा है कार्य

    फरीदाबाद में कुछ जगहों पर जहाँ एक ओर नये पार्क बनाये जा रहे हैं, पार्क को साफ सुथरा बनाया जा रहा है...

    फरीदाबाद के इस अस्पताल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन, तैयारियाँ की जा रही है पूरी

    ग्रेटर फरीदाबाद में मां अमृतानंदमयी अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। आपको बता दें इस अस्पताल का उद्घाटन करने प्रधानमंत्री नरेंद्र...

    फरीदाबाद के इन दो तालाबों का होगा कायाकल्प, बनाया जायेगा अमृत सरोवर, खर्च होंगे 2.73 करोड़

    फरीदाबाद के दो तालाबों को अमृत सरोवर बनाने की हो रही है तैयारी। आपको बता दें केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर...

    एक पिता का त्याग जो भर देगा आपकी आंखों में आँसू, बच्चो को पढ़ने के लिए उठाता है दिन भर बोझा

    हर माता पिता का सपना होता है कि उनका बच्चा पढ़ लिख कर एक अच्छा इंसान बने, ऐसे में माता पिता खूब मेहनत करते है। खासकरके इसमें पिता का अहम रोल होता है। पिता के बिना बच्चों का कोई वजूद नहीं होता। जी हां बच्चे के सपने पूरे करने के लिए एक पिता हर वो मेहनत करता है जिसे उसे करना चाहिए। तो चलिए आज एक ऐसे पिता की कहानी बताने जा रहे है जिसके बारे में सुनते ही आपकी आंखें नम हो जाएंगी।

    दरअसल लाहौर के सलीम काज़मी ने अपने फ़ेसबुक पेज पर एक ट्रिप के दौरान किसी कुली के साथ हुई छोटी सी मुलाकात का किस्सा शेयर किया है जो काफी असहाय होने के बाद भी अपने बच्चो की जिंदगी सँवारने के लिए लोगों के बोझ से दबा जा रहा था। लाहौर के रेलवे स्टेशन पर करीब 20 सालों से यूसिफ नामक व्यक्ति अपने बच्चों के लिए कुली का काम कर रहे है।

    परिवार को चलाने के लिए यूसिफ ने अपनी खुशियों की कुर्बानी दे दी। उनके परिवार में 1 बेटा और 2 बेटी है जिसकी जिम्मेदारी यूसिफ अच्छे से निभा रहे है। दिन रात मेहनत करने के बाद बेटे को इंजीनियरिंग  की पढ़ाई करवाई।

    साल 2008 में यूसिफ़ के बेटे ने जिस कॉलेज से इंजीनियरिंग की थी, उसे उसी कॉलेज में लेक्चरार की जॉब मिल गयी। बेटे की नौकरी लगते ही मानों उनके सपने पूरे हो गए। पूरा परिवार मानो खुशी से झूम रहा था।

    बेटे ने पिता की नौकरी भी छुड़वा दी लेकिन शायद इस परिवार को खुशियों पर किसी की नजर लग गयी और एक छोटी सी दुर्घटना में यूसिफ ने अपने बेटे को खो दिया। जिसके बाद पूरा परिवार फिर से टूट गया। अपने परिवार को संभालने के लिए यूसिफ ने फिर से कुली की नौकरी पकड़ ली।

    जिस बेटे की आस में नौकरी छोड़ी उसने फिर से बोझ तले दबा दिया। लेकिन इस बार उनके कंधें भी समान को बोझ नही उठा पा रहे थे। क्योकि उनका एक कंधा पैरालाइज़ हो चुका है। जिससे समान को उठाने में हाथ पैर कांपने लगते थे। लेकिन इसके बावजूद उनका दूसरा उद्देश्य़ अपनी दोनों बेटीयों को काबिल बनाने का था।

    Latest Posts

    फरीदाबाद में सीवर लीकेज से परेशान हैं शहरवासी, सीएम विंडो पर शिकायत के बावज़ूद नहीं हुई कार्यवाही

    फरीदाबाद में कई जगहों पर लोग सीवर जाम और सड़कों पर पानी जाम से परेशान हैं। आपको बता दें फरीदाबाद बड़खल विधानसभा...

    छह लेन सड़क बनाने के लिए तोड़ी गई पार्क की दीवार, लेकिन बन्द पड़ा है कार्य

    फरीदाबाद में कुछ जगहों पर जहाँ एक ओर नये पार्क बनाये जा रहे हैं, पार्क को साफ सुथरा बनाया जा रहा है...

    फरीदाबाद के इस अस्पताल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे उद्घाटन, तैयारियाँ की जा रही है पूरी

    ग्रेटर फरीदाबाद में मां अमृतानंदमयी अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। आपको बता दें इस अस्पताल का उद्घाटन करने प्रधानमंत्री नरेंद्र...

    फरीदाबाद के इन दो तालाबों का होगा कायाकल्प, बनाया जायेगा अमृत सरोवर, खर्च होंगे 2.73 करोड़

    फरीदाबाद के दो तालाबों को अमृत सरोवर बनाने की हो रही है तैयारी। आपको बता दें केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर...

    Don't Miss

    11 साल की बच्ची ने लाखों रुपये का सड़कों पर बैठकर किया ये व्यापार, अब पढ़ाई के लिए खरीदा स्मार्टफोन

    इंसान की मजबूरी उससे कुछ भी करवा सकती है। मजबूरी उम्र नहीं देखती है। कहते हैं कि कुछ करने की जिद और...

    ऑक्सीजन सपोर्ट पर सांस ले रही मां बना रही थी खाना, बेटे बोला निस्वार्थ प्रेम, लोग बोले शर्म करो

    समय किसे क्या नहीं दिखाता, समय है ही ऐसी शक्ति कि वो किसी को भी नहीं बख्शता, सभी को अपने हिसाब से...

    300 करोड़ क्लब के बादशाह हैं Prabhas-Salman Khan, लिस्ट में पीछे रेंग रहे हैं बाकी सितारे

    बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान और प्रभास के सामने इंडियन फिल्म इंडस्ट्री के कई धांसू सितारे पानी मांगते हैं। यकीन नहीं आता तो...

    बोल और सुन नहीं सकती यह जोड़ी , सिर्फ 135 रुपए में हुई शादी, पेश किया एक उदाहरण

    शादी मतलब लाखों का खर्च जी हां आज के समय में शादी के अनाप-शनाप इतने खर्चे हो गए हैं कि आम आदमी...

    सुंदर बनाने की चाहत में मां ने लगा दी ऐसी क्रीम बच्चे का मुंह गुब्बारे जैसा हो गया

    जब बच्चा जन्म लेने वाला होता है तो हर माता पिता सोचते है कि उनका बच्चा सुंदर और स्वस्थ हो। ऐसे में...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.