32.1 C
Delhi
Sunday, June 20, 2021

क्या आप जानते हैं महाशिवरात्रि का गृहस्थ और साधकों के लिए पूजा का अलग अलग मुहूर्त और शुभ योग

महाशिवरात्रि 2021 साल का वह पावन दिन है जिस दिन भक्त महादेव और शक्ति स्वरूपा माता पार्वती को प्रसन्न करने के लिए...
More

    Latest Posts

    20 साल में 40 बार मिला ट्रांसफर, फिर भी नही मानी इस दबंग महिला अफसर ने हार

    जी हां दोस्तों, डी रूपा, एक ऐसा नाम, जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। डी रूपा ने जब...

    सभी रिश्तों पर रखे गए है इन रेलवे स्टेशन के नाम, पर माँ के नाम पर कोई स्टेशन नहीं

    दोस्तों रिश्ते बहुत अहमियत रखते हैं हर किसी के जीवन में। जीवन है तो रिश्ते हैं, जीवन नहीं तो रिश्ते नहीं। रिश्ते...

    कुदरत के फरिश्ते: चेन्नई की 12 ट्रांसवुमेन जो गरीबो को खिलाते है भरपेट खाना

    जी हां दोस्तों बिल्कुल सही सुना आपने। जो आप पढ़ रहे हैं ये ही सच्चाई है। जिन लोगों को आम इंसान भी...

    प्रेमिका की शादी में प्रेमी पहुँचा कुल्हाड़ी लेकर, और जयमाला के समय कर दिया ऐसा काम

    एकतरफा प्यार एक-दूसरे को किसी भी स्टेज तक लेकर जा सकता है। जो लोग एकतरफा प्यार करते हैं, वो लोग हमेशा खतरे...

    क्या आप जानते हैं भारत के राष्ट्रपति की बेटी क्या काम करती है, जानकर उड़ जाएंगे होश

    अक्सर आपने देखा और सुना होगा कि बच्चे अपने माता-पिता पर डिपेंड होते हैं और यह होना भी चाहिए और यह अक्सर होता भी है, देखा भी जाता है। भारत में तो इस तरीके से बहुत ही ज्यादा देखा जाता है। माता-पिता का बिजनेस होता है या फिर जो काम माता-पिता का होता है उसी काम को आगे बढ़ाने में उनके बच्चे भी लग जाते हैं, जुट जाते हैं।

    कई बार देखा जाता है कि मां-बाप अच्छे रसूख वाले होते हैं अच्छे पदों पर होते हैं और उसका सीधा फायदा बच्चों को भी मिलता है, लेकिन कुछ बच्चे ऐसे भी होते हैं जो बेहद स्वाभिमानी होते हैं और वह अपने स्वाभिमान का अपने ऊपर पूरा इस्तेमाल करते हुए अपने माता-पिता का तनिक भी सहयोग नहीं लेते अपने भविष्य को बनाने में.

    आज हम आपको एक ऐसी ही हसती से रूबरू कराने जा रहे हैं जो देश भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की बेटी हैं, लेकिन उन्होंने अपने पिता के रसूख का कभी भी इस्तेमाल नहीं किया।

    पिता का नाम लेकर कभी भी किसी भी नौकरी को करने की नहीं सोची। उन्होंने हमेशा ही अपने दम पर अपनी नौकरी पाई और उसी में ही खुश रहीं। बतादें राष्ट्रपति की बेटी स्वाति कोविंद इंडियन एयरलाइंस में एयरहोस्टेस हैं, और अपने काम को बेहद ज़्यादा पसंद करती हैं।

    स्वाति बताती हैं कि उन्होंने कभी भी अपने पिता का नाम लेकर किसी भी काम को करवाने की नहीं सोची, वो ये भी बताती हैं कि उनके पिता ही उन्हें अपने पैरों पर खड़े होकर सेल्फ़ डिपेंड होने की सलाह देते हैं।

    और यही कारण है कि स्वाति के मन में भी अपने पिता के लिए पूरा आदर, भाव और सम्मान है, लेकिन भरोसा सिर्फ अपनी मेहनत पर।

    Latest Posts

    20 साल में 40 बार मिला ट्रांसफर, फिर भी नही मानी इस दबंग महिला अफसर ने हार

    जी हां दोस्तों, डी रूपा, एक ऐसा नाम, जिसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। डी रूपा ने जब...

    सभी रिश्तों पर रखे गए है इन रेलवे स्टेशन के नाम, पर माँ के नाम पर कोई स्टेशन नहीं

    दोस्तों रिश्ते बहुत अहमियत रखते हैं हर किसी के जीवन में। जीवन है तो रिश्ते हैं, जीवन नहीं तो रिश्ते नहीं। रिश्ते...

    कुदरत के फरिश्ते: चेन्नई की 12 ट्रांसवुमेन जो गरीबो को खिलाते है भरपेट खाना

    जी हां दोस्तों बिल्कुल सही सुना आपने। जो आप पढ़ रहे हैं ये ही सच्चाई है। जिन लोगों को आम इंसान भी...

    प्रेमिका की शादी में प्रेमी पहुँचा कुल्हाड़ी लेकर, और जयमाला के समय कर दिया ऐसा काम

    एकतरफा प्यार एक-दूसरे को किसी भी स्टेज तक लेकर जा सकता है। जो लोग एकतरफा प्यार करते हैं, वो लोग हमेशा खतरे...

    Don't Miss

    इस भाई को पॉपकॉर्न खाना पड़ा भारी कि उसकी जान बचाने के लिए कि ओपन हार्ट सर्जरी

    जब भी हम अपने घरों में या सिनेमा घरों में फ़िल्म देखने जाते है तो हम टाइम पास के लिए पॉपकॉर्न खाना...

    अभिनेत्री मौनी रॉय की सरकार से अपील कहा ‘स्कूल में हो भगवद गीता की पढ़ाई’, ताकि….

    बॉलीवुड में ज्यादातर ग्लैमर की ही बातें होती हैं। मगर मौनी रॉय आएक ऐसी एक्ट्रेस हैं जो ट्रेंड में रहने के साथ-साथ...

    महिला ने प्रेमी संग रहने को हाईकोर्ट से मांगी सुरक्षा, न्यायालय ने दे दी यह सजा

    पंजाब और हरियाणा से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जिसे सुनने के बाद आपके भी होश उड़ जाएंगे। वैसे इस मामले...

    लिंगराज मंदिर के पास हुई खुदाई में मिली वो अमूल्य चीज, देख लोग हो गए हैरान!

    भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को ओडिशा की राजधानी में प्रसिद्ध लिंगराज मंदिर के नजदीक एक बहुत ही प्राचीन मंदिर का ढांचा मिला है।...

    बड़े बेटे के मरने के बाद छोटे ने निकाला माँ को घर से बाहर, सड़को पर भीख मांगने को हुई मजबूर

    माता पिता बच्चों के लिए कब बोझ बन जाते है ये किसी को पता नहीं होता। अब का जमाना बहुत बदल गया...

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.